pakistani latest news in hindi

भारत में आतंकियों की घुसपैठ के लिए अब बच्चों की मदद ले रहा पाकिस्तान

Quote Posted on

loc_bsf_1494042930_749x421

जम्मू कश्मीर में गड़बड़ी फैलाने के मकसद से आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए पाकिस्तान रोज नए तरीके अपना रहा है. पाकिस्तान ने अब घुसपैठ से पहले इलाके का जायजा (रेकी) लेने के लिए नाबालिग लड़कों का इस्तेमाल कर रहा है. जम्मू के राजौरी स्थित नौशेरा सेक्टर में सुरक्षाबलों ने नियंत्रण रेखा के पास एक ऐसे ही एक किशोर को गिरफ्तार किया है.

रक्षा विभाग के प्रवक्ता लेफ्टिनेट कर्नल मनीष मेहता ने इसकी गिरफ्तारी की जानकारी देते हुए बताया कि भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा के पास गश्त के दौरान 12 साल के एक घुसपैठिये को पकड़ा. अशफाक अली चौहान नाम का यह किशोर बुधवार देर शाम नियंत्रण रेखा पार कर रजौरी सेक्टर के नौशेरा सेक्टर घुसा था.

उन्होंने बताया कि अशफाक नियंत्रण रेखा के आसपास घूम रहा था. उसकी हरकतों को लेकर शक होने पर गश्ती दल ने उससे रोककर पूछताछ की, तो उसने तुरंत सरेंडर कर दिया.

सैन्य प्रवक्ता के मुताबिक, अशफाक ने पूछताछ में बताया कि वह बलूच रेजिमेंट के रिटायर्ड सैनिक हुसैन मलिक का बेटा है. उसका पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में भीमबेर जिले के समानी तहसील स्थित डुंगर पेल गांव का निवासी है. उन्होंने कहा, ‘ऐसी आशंका है कि आंतकियों ने पाकिस्तानी सेना की मदद से उस लड़के को नियंत्रण रेखा पार कराया, जिससे कि वह घुसपैठ के लिए आसान रास्तों की निशानदेही कर सके.’

सेना ने अब इस पाकिस्तानी किशोर को आगे की जांच के लिए पुलिस के हवाले कर दिया है. यहां बता दें कि पाकिस्तान का भीमबेर ही वह जगह है, जहां पिछले साल भारतीय सेना ने आतंकियों के लॉन्च पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक किया था.

Advertisements

PAK के मंसूबों पर सेना की पैनी नजर, BAT से निपटने को बनाई खास रणनीति

Quote Posted on

indian_army_1493782532_749x421

जम्मू कश्मीर में हालिया आतंकी हमलों के बाद भविष्य में ऐसे हमले रोकने के लिए भारतीय सेना ने नई रणनीति बनाई है. सेना का खास जोर आतंकियों की घुसपैठ रोकने पर है और इसके लिए पाकिस्तानी सीमा से सटे घाटी के कुछ खास इलाकों में जवानों की तैनाती में बढ़ाने जा रहा है.

आजतक को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, आतंकी इन दिनों घुसपैठ के लिए 8 नए रास्ते अपना रहे हैं, जिसमें कश्मीर के महादेव से कालाकोट, कोतकोटेरा से काला कोटे और निकैल से मंजी कोटे का रास्ता प्रमुख रूप से निशानदेही पर है. सेना के शीर्ष सूत्रों के मुताबिक, आतंकियों की घुसपैठ रोकने के लिए सैनिकों की टुकड़ी को पीर पंजाल के दक्षिणी इलाकों से घाटी और दूसरे इलाकों की तरफ भेजा जा रहा है.

हाल के महीनों में पाकिस्तानी सेना की बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) की चार कार्रवाइयों को सेना ने नाकाम किया है. BAT से निपटने के लिए सेना ने अब नई योजना बनाई है और उसके नापाक मंसूबों को नाकाम करने के लिए सेना ने स्थानीय कमांडरों को खास निर्देश जारी किए हैं.

बता दें कि पाकिस्तानी सेना ने इसी हफ्ते सोमवार को जम्मू कश्मीर में मेंढर सेक्टर में भारी गोलीबारी कर भारतीय सेना के दो जवानों को शहीद कर दिया था. इस गोलीबारी की वजह से वहां काफी धुआं फैल गया था और इसी का फायदा उठा कर पाकिस्तानी सेना के मुजाहिद लड़ाकों ने भारतीय सीमा में घुसकर भारतीय जवानों के शव क्षत-विक्षत कर दिए.

सेना को मिली खुफिया जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान से सटी नियंत्रण रेखा (LoC)के पार उसके कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में 4-5 कैंप सक्रीय हैं. खुफिया सूत्रों के मुताबिक, नियंत्रण रेखा से 10-15 किलोमीटर अंदर स्थित इन कैंपों में पाक सेना की स्पेशल सर्विस ग्रुप (एसएसजी) ने पिछले महीने बैट टीम को ट्रेनिंग दी थी.

सूत्रों के मुताबिक, भारतीय सेना के DGMO लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने हॉटलाइन पर अपने पाकिस्तानी समकक्ष मेजर जनरल शाहिर शमशाद ने बात की और उनसे PoK में चल रही इन BAT कैंप को तत्काल बंद करने को कहा है. उन्होंने चेतावनी दी कि अगर पाकिस्तानी सेना ने इन कैंपों को तुरंत बंद नहीं किया तो उसे इसके नतीजे भुगतने होंगे .

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को  instantaajtak ने संपादित नहीं किया है, यह aajtakफीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

भारतीय हैकर्स का पलटवार, पाकिस्तान पीपल्स पार्टी समेत 500 से ज्यादा वेबसाइट हैक

Quote Posted on

indian_hackers_760_1493142505_749x421

aajtak.in [Edited By: मुन्ज़िर अहमद]

aajtak.in [Edited By: मुन्ज़िर अहमद]

नई दिल्ली, 26 अप्रैल 2017, अपडेटेड 12:33

 कथित भारतीय हैकर्स ने पाकिस्तान की 500 से ज्यादा वेबसाइट हैक कीं. भारतीय हैकर्स ने रैंजमवेयर के जरिए पाकिस्तान की वेबसाइट हैक कीं. हैकर्स ने पाकिस्तान की ‘पाकिस्तान पीपल्स पार्टी’ की वेबसाइट भी हैक करने का दावा किया है. इससे कुछ घंटे पहले ही पाकिस्तानी हैकर्स ने भारत की टॉप यूनिवर्सिटी के अकाउंट हैक किए थे.

भारत के कथित हैकर ग्रुप ने पाकिस्तान की 500 से ज्यादा वेबसाइट्स हैक करने का दावा किया है. इनमें वो वेबसाइट्स भी शामिल हैं जो HTTPS से सिक्योर हैं.

हैक की गईं वेबसाइट्स में से ज्यादातर वेबसाइट पाकिस्तान सरकार के अधीन आती हैं. दावा किया गया है कि टीम इंडियन ब्लैक हैट नाम के एक ग्रुप ने हैकिंग को अंजाम दिया. हालांकि हैक्ड वेबसाइट के होम पेज पर टीम केरला साइबर वॉरियर्स लिखा हुआ है.

‘पाकिस्तान पीपल्स पार्टी’ की वेबसाइट भी हैक
हैकर्स ने पाकिस्तान की ‘पाकिस्तान पीपल्स पार्टी’ की वेबसाइट भी हैक करने का दावा किया है. इन वेबसाइट में वहां के सरकारी शिक्षण वेबसाइट्स भी शामिल हैं. इसके अलावा ट्रेड वेबसाइट्स और रुरल डेवेलपमेंट वेबसाइट्स भी शामिल हैं.

हमने हैकर ग्रुप से बात की तो उन्होंने बताया है कि ये सिर्फ एक ग्रुप ने नहीं किया है बल्कि कई ग्रुप ने मिलकर किया है. इसमें Luzsecind, team black hats और United Indian hackers जैसे ग्रुप्स शामिल हैं. इनका कहना है कि आने वाले समय में वहां कि और भी वेबसाइट्स को हैक किया जाएगा.

ये कोई आम हैकिंग नहीं है. बल्कि इन्होंने रैंजमवेयर का इस्तेमाल किया है. रैंजमवेयर का मतलब वेबसाइट को हैकर के कब्जे से छुड़ाने के लिए पैसे देने होते हैं. इसके लिए वेबसाइट पर हैकर्स के फेसबुक पेज की डीटेल्स हैं जहां से वो पैसे के लेन देन की बात करेंगे.

हैक की गई वेबसाइट को देखकर लगता है कि केरल साइबर वॉरियर ने किया है. यहां एक बॉक्स है जिसमें Key डालने को कहा जा रहा है. आम तौर पर हैकर रैंजम मनी लेने के बाद एक Key देते हैं जिससे वेबसाइट को वापस लिया जा सकता है.

10 भारतीय यूनिवर्सिटी की वेबसाइट की थीं हैक
मंगलवार को दिन के वक्त पाकिस्तानी हैकर्स ने भारत की 10 यूनिवर्सिटीज की वेबसाइट हैक की थीं. हैक की गई वेबसाइट्स में आईआईटी दिल्ली, आईआईटी भुवनेश्वर, दिल्ली यूनिवर्सिटी, नेशनल एयरोस्पेस लैबोरैट्रीज और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की वेबसाइट शामिल हैं. हैकर्स ने इन वेबसाइट्स को हैक करके उन पर पाकिस्तान जिंदाबाद लिखा था. इसके अलावा कश्मीर के बारे में भी लिखा गया था. हैक की गई वेबसाइट्स में ज्यादातर आर्मी और डिफेंस से जुड़ी शिक्षण संस्थान शामिल हैं. इन वेबसाइट्स की हैकिंग का दावा पाकिस्तान के PHC ग्रुप ने किया है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को  instantaajtak ने संपादित नहीं किया है, यह aajtakफीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

IIT दिल्ली, DU और AMU की वेबसाइट हैक, लिखा- पाकिस्तान जिंदाबाद

Quote Posted on Updated on

du_hack_1493129963_749x421

मुन्ज़िर अहमद

नई दिल्ली, 25 अप्रैल 2017

दिल्ली यूनिवर्सिटी की वेबसाइट को कथित तौर पर पाकिस्तानी हैकर्स ने हैक कर लिया. हैकर्स खुद को PHC ग्रुप का बता रहे हैं. आपको बता दें कि PHC वही ग्रुप है जिसने पिछले साल भारत की 7100 वेबसाइट को हैक करने का दावा किया था. हालांकि वेबसाइट कुछ देर के लिए ही हैक रही है और खबर लिखे जाने तक यह ठीक से काम कर रही है.

इसके अलावा इस हैकर ग्रुप ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की वेबासाइट को भी हैक करने का दावा किया है. इसके अलावा 10 शिक्षण संस्थानों की वेबसाइट इस ग्रुप ने हैक कर लिया है.

हैकर्स ने आईआईटी दिल्ली की वेबसाइट को भी हैक कर लिया है.

 इन हैकर्स ने एक लिस्ट जारी की है जिसमें भारत की नामचीन शिक्षण संस्थानों की वेबसाइट की लिस्ट है जिसे उन्होंने हैक करने का दावा किया है.

http://www.uok.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241418
http://nal.res.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241417
http://amu.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241416
http://iitbhu.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241415
http://iitd.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241413
http://du.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241411
http://www.aimt.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241410
http://diat.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241409
http://www.aim.ac.in
http://zone-h.org/mirror/id/29241408
http://brns.res.in
http://zone-h.org/mirror/id/29240869

पिछली बार भी जब इन्होंने हैकिंग का दावा किया था उसके घंटे भर बाद सभी वेबसाइट्स को रिस्टोर कर लिया गया था. हालांकि तब कुछ भारतीय हैकर्स ने भी पाकिस्तान की कई सरकारी वेबसाइट हैक करने का दावा किया था.

गौरतलब है कि DU की वेबसाइट कमजोर है और आप देख सकते हैं कि इसके URL के आगे HTTPS भी नहीं है. साधारण शब्दों में समझ सकते हैं कि बिना HTTPS वाली वेबसाइट सिक्योर नहीं होती हैं.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को  instantaajtak ने संपादित नहीं किया है, यह aajtakफीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

दिल्ली मेट्रो में युवक ने कहा- पाकिस्तान चले जाओ

Quote Posted on Updated on

delhi_metro_1493094137_749x421
aajtak.in [edited by: मोहित ग्रोवर]

नई दिल्ली, 25 अप्रैल 2017, अपडेटेड 09:56 IST

दिल्ली की शान कहे जानी वाली दिल्ली मेट्रो से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि मेट्रो में सफर के दौरान कुछ युवाओं के ग्रुप ने एक मुस्लिम बुजुर्ग व्यक्ति को सीट ना मिलने पर कहा कि जाओ, पाकिस्तान चले जाओ और बुजुर्ग के साथ बदसलूकी भी की. इस दौरान वहां मौजूद कुछ लोगों ने बुजुर्ग की मदद की. साथ ही वहां मौजूद AICCTU के नेशनल सेक्रेटरी संतोष रॉय ने भी मामले को सुलझाने में मदद की.
 

यह मामला महिला अधिकार कार्यकर्ता कविता कृष्णन ने अपने फेसबुक पोस्ट के जरिये शेयर किया. पोस्ट में कविता ने लिखा कि युवाओं ने बुजुर्ग के साथ बदसलूकी की और उनके कपड़ों का भी मजाक उड़ाया. पोस्ट में उन्होंने लिखा कि जब रॉय ने लड़कों से बुजुर्ग से माफी मांगने को कहा कि तो उन्होंने मना किया और कहा कि जाओ, पाकिस्तान चले जाओ.

हालांकि, खान मार्केट मेट्रो स्टेशन के पास गार्ड आया, उसके बाद इस मामले की शिकायत दर्ज की गई. कविता ने अपने पोस्ट में लिखा कि बुजुर्ग ने दोनों युवकों की माफी को कबूल कर लिया है, और आगे से ऐसी गलती ना दोहराने को कहा है.

आपको बता दें कि दिल्ली मेट्रो में कई बार बदसलूकी का मामला सामने आ चुका है. इसके साथ ही कई बार धर्म को लेकर लोगों को निशाना बनाया जा चुका है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को  instantaajtak ने संपादित नहीं किया है, यह aajtakफीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)